पटना. पुलिस द्वारा शिकायत दर्ज करने से मना करने से क्षुब्ध और नाराज एक दंपति ने बिहार की राजधानी पटना में रविवार को कारगिल चौक पर न्याय की मांग करते हुए नग्न प्रदर्शन किया. जानकारी देते हुए एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि नीरज कुमार और उसकी पत्नी प्रीती देवी ने अपने तीन किशोर बच्चों के साथ नग्न प्रदर्शन किया. ये लोग जहानाबाद जिले के मखदुमपुर के निवासी हैं.

स्थानीय पुलिस द्वारा पति-पत्नी को हिरासत में लेने के बाद नीरज ने बताया कि तीन थाना द्वारा शिकायत दर्ज करने से इंकार करने के बाद न्याय पाने के लिए उन्होंने सड़कों पर नग्न प्रदर्शन किया. नीरज ने कहा कि उनके बड़े भाई ने हमला किया और उनकी पत्नी की पिटाई की जिससे उसके सिर में चोटें आ गई. इसके बाद उन्होंने मखदुमपुर थाने से एफआईआर दर्ज कराने के लिए संपर्क किया, लेकिन पुलिस अधिकारियों ने इसे पड़ोसी तेहता थाने का मामला बताकर उन्हें भगा दिया.

उन्होंने कहा, ‘मैं तेहता थाना गया और मेरा मामला पटना अग्रसारित कर दिया गया. मेरी पत्नी को पटना मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया. इलाज हो जाने के बाद मैं फिर से करीबी थाने में गया लेकिन वहां फिर मेरा मामला दर्ज करने से मना कर दिया गया जिससे मुझे गुस्सा आ गया.’ नग्न प्रदर्शन के कारण सैकड़ों लोग जमा हो गए. इससे पुलिस को लोगों को तितर बितर करने और प्रदर्शन रोकने के लिए बाध्य होना पड़ा. बाद में दंपति को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जितेंद्र राणा के कार्यालय में लाया गया और पुलिस अधिकारी ने उन्हें न्याय दिलाने का भरोसा दिया.

IANS