अहमदाबाद. गुजरात पुलिस ने पटेल आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल का फोन टैप करके यह दावा किया है कि हार्दिक ने भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच राजकोट में वनडे मैच रोकने के लिए पूरे गुजरात में आग लगाने की तैयारी कर रखी थी.
 
अहमदाबाद पुलिस के मुताबिक उसके पास हार्दिक और हार्दिक के सहयोगियों के बीच फोन पर हुई बातचीत का ट्रांस्क्रिप्ट है. इसमें हार्दिक 18 अक्टूबर को राजकोट में खेले गए वनडे मैच से एक दिन पहले अशांति फैलाने की बात कह रहे हैं. 
 
‘सड़कों पर सोडा की बोतलें फोड़ो, टायर जलाओ’
 
पुलिस के मुताबिक राजकोट वनडे की शाम को हार्दिक ने सभी हाइवे को ब्लॉक करने की योजना बनाई थी. पुलिस के अनुसार हार्दिक अपने सहयोगियों से ‘सोडा की खाली बोतलें फोड़ने और टायरों में आग लगाकर हाइवे ठप करने’ की बात कह रहे हैं.
 
पुलिस के मुताबिक 25 अगस्त को अहमदाबाद में पाटीदार रैली से पहले भी आंदोलन से जुड़े नेताओं के बीच भड़काने वाली बातचीत हुई थी. इसमें आरोपियों ने एक घंटे के अंदर ‘सरकार का तख्ता पलट करने, गाड़ियों को जलाने और पूरा गुजरात जलाने’ की बात कही थी.
 
हार्दिक और उनके पांच साथियों पर राष्ट्रद्रोह के आरोप में केस दर्ज हो चुका है. एक और मामले में उन पर लोगों को सरकार के खिलाफ युद्ध छेड़ने की खातिर हिंसक तरीके अपनाने के लिए उकसाने का आरोप है.