इंदौर. मध्य प्रदेश में इंदौर के मनासा गांव में एक दबंग ने धारदार हथियार से एक पुजारी के दोनों हाथ काट दिए. घटना को उस वक्त अंजाम दिया गया जब करणीमाता के मंदिर में महा अष्टमी हवन का आयोजन किया जा रहा था.

बताया जा रहा है कि मंदिर के पुजारी रवींद्र पांडे हवन करने की तैयारी कर रहे थे. इसी बीच आरोपी भंवर सिंह तलवार लेकर मंदिर में दाखिल हुआ और उनसे झगड़ा करने लगा. जिसके बाद शख्स ने तलवार से पुजारी के दोनों हाथ काट दिए और वहां से भाग गया.

करीब दो घंटे तक खून से लथपथ पुजारी मंदिर के भीतर ही तड़पते रहे लेकिन उनकी मदद को कोई आगे नहीं आया. जिसके बाद परिवार मौके पर पहुंचा और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई

बता दें कि पुजारी के परिवार का कई साल से भंवर सिंह से जमीनी विवाद चल रहा था. इस दौरान पुजारी परिवार ने कई बार पुलिस को मामले में शिकायत भी दर्ज करवाई थी, लेकिन पुलिस ने मामले में कोई कार्रवाई नहीं की.