नई दिल्‍ली. कर्नाटक और गुजरात सरकार ने राज्य में मैगी से बैन हटा लिया है. तीन अलग-अलग प्रयोगशालाओं से परीक्षण के बाद आए नतीजों को देखते हुए यह बैन हटाया  गया है.
 
गुजरात के स्वास्थ्य मंत्री नितिन पटेल ने बताया कि बॉम्‍बे हाईकोर्ट के निर्देश पर जांच के लिए तीन प्रयोगशालाओं में भेजे गए मैगी ब्रांड इंस्टेंट नूडल्स के नमूने में किसी तरह की त्रुटि नहीं है.
 
 
इन परीक्षणों में खरा उतरने के बाद अब मैगी की एक बार फिर से बाजार में वापसी रास्ता खुल गया है. इससे पहले नेस्ले इंडिया ने भी घोषणा की है कि कंपनी जल्द ही मैगी को फिर से बाजार में उतारने वाली है.
 
बता दें कि इससे पहले जून में मैगी पर सीसा और एमएसजी की अधिक मात्रा होने की वजह से बिक्री पर रोक लगा दी गई थी.