नई दिल्ली. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने दादरी की घटना को शर्मनाक करार देते हुए बीजेपी के ही MLA संगीत सोम के दादरी जाने को गलत बताया है. शाह ने साफ़ कहा कि संगीत सोम का तनाव के माहौल में गांव जाना ठीक नहीं था. 
 
दादरी के गुनाहगारों को मिलेगी सजा 
शाह ने 28 सितंबर को हुई घटना को लेकर एक चैनल के एक सवाल के जवाब में कहा, जो भी हुआ.. यह गलत है. उन्हें गिरफ्तार किया जाना चाहिए और सजा दी जानी चाहिए. उन्होंने हालांकि कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार या बीजेपी को मुद्दे में नहीं घसीटना चाहिए क्योंकि यह कानून व्यवस्था का विषय है, जो राज्य सरकार की जिम्मेदारी है.
 
संगीत सोम को दादरी नहीं जाना चाहिए था
बीजेपी अध्यक्ष ने कहा, हत्या कहां हुई? यह (विधि व्यवस्था बनाए रखना) समाजवादी पार्टी की जिम्मेदारी है और बीजेपी इसका कैसे जवाब दे सकती है? यह पूछे जाने पर कि घटनास्थल पर बीजेपी नेता क्यों गए जिसे भड़काउ कदम के तौर पर देखा गया, उन्होंने कहा, दादरी पहले कौन गया? राहुल गांधी पहले गए. उनके बाद असदुद्दीन ओवैसी गए फिर (अरविंद) केजरीवाल गए. बीजेपी की ओर से महेश शर्मा (केंद्रीय मंत्री) गए, क्योंकि वह वहां के सांसद हैं, इसलिए यह उनकी जिम्मेदारी थी. जब 2013 के गुजफ्फरनगर दंगों के आरोपी विधायक संगीत सोम की तरफ इशारा किया गया तो शाह ने कहा कि उन्हें ‘वहां नहीं जाना चाहिए था.’