नई दिल्ली. केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि कश्मीरी पंडितों को घाटी में दोबारा बसाने के अपने वादे को मोदी सरकार जरूर पूरा करेगी. राजनाथ ने कहा,  ‘मैं इस संबंध में विस्तार से बात नहीं करना चाहता. केंद्र सरकार द्वारा कश्मीरी पंडितों को दोबारा से बसाने के फैसले में कोई बदलाव नहीं किया गया है. हम कश्मीरी पंडितों और घाटी के सभी लोगों की सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं.’

हालांकि, जम्मू एवं कश्मीर के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद ने विस्थापित कश्मीरी पंडितों को घाटी में अलग से बसाने से जुड़े किसी भी प्रस्ताव से इंकार किया था. सईद ने यह बात घाटी में कश्मीरी पंडितों को अलग से बसाने की बात पर हुए विरोध के बाद कही थी. 

गौरतलब है कि सईद की मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री राजनाथ सिंह के साथ बैठक के बाद आधिकारिक रूप से यह कहा गया था कि मुख्यमंत्री ने भरोसा जताया है कि राज्य सरकार विस्थापित कश्मीरी पंडितों के लिए अलग से टाउनशिप बनाने के लिए जमीन का अधिग्रहण करेगी और उन्हें जमीन मुहैया कराएगी.