लखनऊ. पेन चोरी के शक में एक निजी विद्यालय के प्रधानाध्यापक ने दूसरी क्लास के दो दलित छात्रों को इतना पीटा कि एक की मौत हो गई जबकि दूसरे की हालत खराब है. पुलिस ने आरोपी शिक्षक को गिरफ्तार कर लिया है. फतेहपुर कोतवाली के बैसड़ा गांव का रहने वाला छविराज का 10 साल का बेटा शिवा रावत बड्डूपुर थाना क्षेत्र के रहिलामऊ गांव में चौधरी द्वारिका प्रसाद एकेडमी में पढ़ता था.

छविराज का आरोप है कि मंगलवार को शिवा और उसके साथी सुधीर पुत्र सजीवन रावत को परिसर में एक पेन पड़ा मिला. उन्होंने पेन रख ली लेकिन प्रधानाध्यापक ललित कुमार वर्मा ने दोनों बच्चों को चपरासी से बुलवाया और फिर चोरी का आरोप लगाते हुए थप्पड़ व घूंसों से उनकी पिटाई शुरू कर दी. पिटाई के बाद शिवा घर आया और उसने घरवालों को पिटाई की जानकारी दी पर तब तक उसकी हालत बिगड़ने लगी थी. जब तक उसे अस्पताल ले जाते, रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया. आरोपी प्रधानाध्यापक के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है.