मुंबई. जम्मू-कश्मीर में लगातार सेना और आतंकी के बीच हुए मुठभेड़ पर शिवसेना ने मोदी सरकार की खिंचाई की है. शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ में लिखा, ‘त्रासदी यह है कि भारतीय सुरक्षा बलों के लिए आतंकवादी सबसे बड़ी चुनौती साबित हुए हैं. पाकिस्तान के कुछ मंत्री और हाफिज सईद लगातार भारत को धमकी दे रहे हैं. लेकिन हम सिर्फ इसे हंसी में उड़ा रहे हैं.’
 
शिवसेना ने लिखा कि भारत अपने बहादुर जवान खोता जा रहा है, जबकि आतंकवादियों का पाकिस्तान में शहीद और स्वतंत्रता सेनानी कहकर सम्मान किया जा रहा है और उनके नाम पर स्मारक बनाए जा रहे हैं.
 
जम्मू -कश्मीर के कुपवाड़ा इलाके में एक आतंकवादी को मार गिराने में चार भारतीय सैनिकों को अपनी शहादत देनी पड़ी. इसी तरह जम्मू-कश्मीर के उधमपुर और हंदवाड़ा और पंजाब के गुरदासपुर में आतंवादियों के साथ हुए मुठभेड़ में कई भारतीय जवानों को जान गंवानी पड़ी है.
 
शिवसेना ने हमले पर जोर देते हुए लिखा कि हमें राजनीतिक इच्छा शक्ति की जरुरत है. ये हमें यूएस,यूके, जर्मनी या फ्रांस से नहीं मिलेगा…बल्कि खुद सरकार को इसके लिए आगे आना होगा.