नई दिल्ली. जल्द ही दिल्ली में भी वाराणसी और हरिद्वार की तर्ज पर यमुना नदी के किनारे महाआरती होगी. यमुना सफाई के प्रति लोगों को जागरूक करने की दिशा में दिल्ली सरकार अब यमुना किनारे भी रोज महाआरती करवाने की तैयारी कर रही है.  
 
दिल्ली सरकार के पर्यटन मंत्री कपिल मिश्रा ने शुक्रवार को इसका ऐलान करते हुए बताया कि 13 नवंबर से रोज शाम को यमुना किनारे भी उसी तरह की महाआरती होगी जैसी हरिद्वार और वाराणसी में गंगा के किनारे होती है. 
 
13 नवंबर से शुरू होगी महाआरती 
उन्होंने कहा कि इसके लिए बड़े पैमाने पर तैयारियां की जा रही हैं. 13 नवंबर को भाई दूज है और उस दिन यमुना की पूजा करने की परंपरा भी है. महाआरती के शुरुआती दिनों में कई बड़ी हस्तियों को बुलाने की भी योजना है.
 
मिश्रा का कहना है कि यमुना की स्थिति खराब है. इसके लिए आम लोगों को नदी से जोड़ना पड़ेगा. जब लोग नदी के महत्व को समझेंगे, तभी यमुना में प्रदूषण रुकेगा.