नई दिल्ली. राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण (एनजीटी) ने दिल्ली की सड़कों पर 10 साले पुराने सभी प्रकार के डीजल वाहनों के परिचालन पर प्रतिबंध लगा दिया है. इसके लिए एनजीटी ने परिवहन अधिकारियों इस तरह के वाहनों की सूची सौंपने के लिए कहा है. साथ ही 9 अप्रैल से दिल्ली में बाहर से आने वाली गाड़ियों के प्रदूषण स्तर, वजन और उसकी साल की जांच के लिए इकाई स्थापित होंगी.

एनजीटी प्रमुख न्यायमूर्ति स्वतंत्र कुमार की पीठ ने आदेश पारित करते हुएदु निया के कई अन्य देशों का उदाहरण देते हुए कहा कि अच्छी गुणवत्ता की हवा सुनिश्चित करने के लिए उन्होंने भारी कर लगाकर या पुरानी डीजल रोक लगाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है. इससे पहले न्यायाधिकरण ने पिछले साल राष्ट्रीय राजधानी में 15 साल से अधिक पुराने पेट्रोल वाहनों के परिचालन पर रोक लगाई थी.