गोरखपुर. संगीतकार एआर रहमान के खिलाफ फतवा जारी करने को लेकर उठे विवाद पर निशाना साधते हुए विवादास्पद बीजेपी सांसद योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि हिंदू धर्म में वापसी करने पर एआर रहमान का स्वागत है. फतवा जारी करने के बाद विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) ने कहा कि रहमान के लिए ‘घर वापसी’ का यह सही वक्त है. आदित्यनाथ ने इस फतवा को ‘हास्यास्पद’ करार दिया.
 
ईरानी फिल्म ‘मोहम्मद : मेसेंजर ऑफ गॉड’ पर आपत्ति जताते हुए मुंबई के एक मुस्लिम समूह ‘रजा एकेडमी’ ने हाल में रहमान और प्रसिद्ध ईरानी निर्देशक माजिद माजिदी सहित फिल्म से जुड़े सभी लोगों के खिलाफ फतवा जारी किया था. इस विवादास्पद फतवा के बारे में पूछे जाने पर आदित्यनाथ ने गोरखपुर में शुक्रवार को संवाददाताओं से कहा, रहमान के खिलाफ फतवा जारी करना अपने आप में हास्यास्पद है और अगर कोई वापसी (हिंदू धर्म में वापसी) करना चाहता है, तो हम उनका स्वागत करेंगे. रहमान के लिए योगी के सुझाव की आलोचना करते हुए कांग्रेस ने शनिवार को इसे ‘घृणास्पद’ करार दिया, जबकि केंद्रीय संस्कृति मंत्री और वरिष्ठ बीजेपी नेता महेश शर्मा ने बयान देने से इनकार कर दिया.