नई दिल्ली. दिल्ली विश्वविद्यालय और जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय में छात्र संघ चुनावों के लिए आज मतदान हो रहे हैं. डूसू चुनाव के नतीजे शनिवार दोपहर तक घोषित होंगे और जेएनयू छात्रसंघ चुनाव के नतीजे रविवार तक घोषित होंगे. इन चुनावों में 50 से ज्यादा उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा.
 
दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रात: मतदान केन्द्रों में मतदान सुबह 8.30 से 12.30 तक होगा और सांध्य मतदान केन्द्रों में मतदान 3 से शाम 7 बजे तक होगा. जेएनयू में मतदान सुबह 9.30 से शाम 5.30 बजे तक होगा. दिल्ली विश्वविद्यालय में इस बार कङा मुकाबला दिखाई दे रहा है. इस बार चुनावों में मुकाबला बीजेपी से जुड़ी अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् (एबीवीपी),कांग्रेस से संबधित नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (एनएसयूआई) और आम आदमी पार्टी की छात्र शाखा छात्र युवा संघर्ष समिति (सीवाईएसएस) के बीच है. इसके अलावा आईसा और अन्य कई दल भी चुनावी मैंदान में हैं. डूसू चुनावों में इस साल शिरोमणि अकाली दल की युवा शाखा स्टूडेंट्स आर्गेनाइजेशन ऑफ इंडिया (एसओआई) भी शामिल हो रही है.
 
डूसू चुनावों में चार पदों के लिये कुल 35 उम्मीदवार मैदान में हैं. अध्यक्ष पद की दौड़ के लिये नौ उम्मीदवार, उपाध्यक्ष के लिए 8, सचिव और संयुक्त सचिव के लिए क्रमश: 10 और 8 उम्मीदवार मैंदान में हैं. दिल्ली विश्वविद्यालय में एक लाख 35 हजार 298 मतदाता अपने मतदान अधिकार का प्रयोग करेंगे. पिछले वर्ष डूसू चुनावों में एबीवीपी ने एनएसयूआई को हराकर चारों पद पर कब्जा किया था.
 
जेएनयू छात्रसंघ चुनावों में क्रेंद्रीय पैनल के लिये कुल 22 उम्मीदवार चुनावी मैंदान में हैं वहीं अन्य 83 उम्मीदवार विश्वविद्यालय के सभी केंद्रों के पार्षद पद का चुनाव लड़ रहे हैं. पिछले साल जेएनयू चुनावों में आईसा ने सभी शीर्ष चार पदों पर कब्जा किया था.