नासिक. नासिक कुंभ का आज पहला शाही स्नान है. नासिक और त्र्यम्बकेश्वर में लाखों वैष्णव सम्प्रदाय के दिगम्बर, निर्मोही और निर्वाणी अखाड़ों के हजारों महंत और साधु नासिक में पहला पवित्र स्नान कर रहे हैं.स्नान से पहले सभी अखाड़ों का शाही जुलूस भी निकाला गया है.
 
इस बार नासिक में करीब 80 लाख और त्र्यंबकेश्वर में 30 लाख लोग डूबकी लगा सकते हैं. कुंभ मेले का आयोजन हरिद्वार, इलाहाबाद, नासिक और उज्जैन में किया जाता हैपहले शाही स्नान को देखते हुए यहां भारी संख्या में पुलिस बलों की तैनाती की गई है..गोदावरी नदी को जाने वाले सभी रास्तों को साढ़े तीन किलोमीटर के दायरे में बंद कर दिया गया है.. 350 सीसीटीवी कैमरों से चप्पे-चप्पे की निगरानी की जा रही है. नासिक और त्र्यम्बकेश्वर में जगह-जगह बैरिकेड्स लगाए गए हैं. नासिक में दूसरा शाही स्नान 13 सितंबर को जबकि तीसरा शाही स्नान 18 सितंबर को होगा. नासिक में हर 12 साल पर कुंभ मेले का आयोजन होता है.