श्रीनगर. जम्मू एवं कश्मीर में घाटी को देश के बाकी हिस्सों से जोड़ने वाला महत्वपूर्ण श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग भूस्खलन की वजह से शुक्रवार को लगातार तीसरे दिन भी बंद रहा, जिसके कारण 300 किलोमीटर लंबे राजमार्ग पर अब भी सैकड़ों वाहन फंसे हुए हैं. यातायात विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘रामबन जिले के नगरकोट और बैट्री चश्मा इलाकों में रातभर हुई भारी बारिश के बाद हुए भूस्खलन के चलते श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग आज (शुक्रवार) भी बंद रहेगा. रास्ता साफ करने का काम जारी होने की वजह से आज किसी भी वाहन को राजमार्ग से निकलने की इजाजत नहीं होगी.’

बारिश के बाद हुए भूस्खलन की वजह से राजमार्ग पर ट्रक, सार्वजनिक एवं निजी गाड़ियां समेत 1,500 से ज्यादा वाहन फंसे हुए हैं. रातभर हुई बारिश के चलते घाटी में नदियों, झीलों और पहाड़ी नदियों का जलस्तर फिर से बढ़ गया है. हालांकि, राज्य में झेलम नदी का जलस्तर अभी खतरे के निशान से नीचे है. जम्मू एवं कश्मीर के कैबिनेट मंत्री नईम अख्तर ने बताया, ‘राज्य में कहीं भी बाढ़ का खतरा नहीं है. सभी नदियां खतरे के निशान से नीचे बह रही हैं.’

IANS