नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पटेल और पाटीदार समाज के आरक्षण मुद्दे पर हिंसक घटनाओं के बीच गुजरात के लोगों से शांति और व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है. मंगलवार के दिन गुजरात में पटेल समुदाय के लिए नौकरी में आरक्षण की मांग के मुद्दे पर हिंसक प्रदर्शन हुए हैं.
 
अपने संदेश में मोदी ने कहा कि हिंसा से किसी को लाभ नहीं होता और शांतिपूर्ण ढंग से मुद्दे का समाधान होना चाहिए. उन्होंने कहा कि समाज के हर तबके के साथ मिलकर काम करने से ही विकास संभव है.
 
क्यों हो रहे है हिंसक प्रदर्शन?
गुजरात की कुल आबादी 6 करोड़ 27 लाख है. इसमें पटेल-पाटीदार लोगों की तादाद 20 फीसदी है. यह समुदाय आरक्षण की मांग कर रहा है. ये लोग खुद को ओबीसी कैटेगरी में शामिल कराना चाहते हैं, ताकि कॉलेजों और नौकरियों में कोटा मिल सके. राज्य में अभी ओबीसी रिजर्वेशन 27 फीसदी है. ओबीसी में 146  समुदाय पहले से लिस्टेड है. पटेल-पाटीदार समुदाय खुद को 146वीं कम्युनिटी के रूप में ओबीसी की लिस्ट में शामिल कराना चाहती है.