नई दिल्ली. राजस्थान के भीलवाड़ा निवासी बलवंत कुमावत ने चप्पल ना पहनने की अपनी दो साल पुरानी कसम तोड़ दी. पीएम मोदी से मिलने की ख्वाहिश पूरी होने पर कुमावत ने अपनी कसम तोड़ी.
 
बलवंत ने कसम खाई थी कि जब तक वो पीएम मोदी से मिल नहीं लेंगे तब तक चप्पल नहीं पहनेंगे. प्रधानमंत्री मोदी ने बलवंत से मिलने के बाद उनसे खुद चप्पल पहनने की अपील की. साथ ही बलवंत को देश हित में कार्य करने की सलाह दी. यह भी कहा कि वह ऐसी प्रतिज्ञा न करे, जिससे शारीरिक कष्ट हो.