महोबा. सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव को उनके रेप वाले विवादित बयान पर महोबा की लोकल कोर्ट ने खुद से संज्ञान लेते हुए समन जारी किया है. मुलायम के लखनऊ में दिए गए बयान पर यह समन जारी किया गया है. कुलपहाड़ के सिविल जज (जूनियर डिविजन) अंकित गोयल ने यह समन जारी किया है.
 
क्या था बयान-
‘एक महिला के साथ चार पुरुष दुष्कर्म नहीं कर सकते.’ रेप एक व्यक्ति करता है लेकिन मुकदमा तीन और के खिलाफ दर्ज होता है. रेप को लेकर यादव ने पहले भी विवादास्पद बयान दिया था.
 
एक समारोह में मुलायम सिंह ने जोर देकर कहा कि बीजेपी शासित मध्य प्रदेश में नौ फीसदी जबकि राजस्थान में रेप का प्रतिशत सात के ऊपर है. इसकी तुलना में उत्तर प्रदेश में रेप का औसत दो फीसद है, फिर भी राज्य सरकार के खिलाफ दुष्प्रचार चल रहा है.
 
उन्होंने कहा कि रेप की वारदात में दिल्ली की हालत बदतर है. प्रदेश की कानून व्यवस्था खराब होने के इल्जामों पर पलटवार करते हुए मुलायम ने कार्यक्रम में मौजूद मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से कहा कि ”रेप की घटनाएं खत्म करने के लिए वह नीति बनायें.”