उज्जैन. महाकाल मंदिर में नागपंचमी पर नागचंद्रेश्वर दर्शन के दौरान हंगामा हो गया. बुधवार रात 10 बजे गेट नंबर 4 से कुछ लोगों के साथ प्रवेश करने से रोके जाने से अपर कलेक्टर नरेंद्र सूर्यवंशी इस कदर झल्लाए कि उन्होंने एडीएम की मौजूदगी में एक आरक्षक को सरेआम चांटा मार दिया. सिपाही भी सूर्यवंशी के इस व्यवहार से बेहद गुस्से में आ गया और उसने भी मारपीट शुरू कर दी. घटनास्थल पर मौजूद अन्य सिपाही भी सूर्यवंशी के व्यव्हार को देखकर गुस्से में आ गए और उन्हें वहां से खदेड़ दिया. 
 
क्या था मामला
रात 10 बजे गेट नंबर चार पर महाकाल थाने के टीआई मनोज दुबे आधा दर्जन आरक्षकों के साथ ड्यूटी पर तैनात थे. उसी समय अपर कलेक्टर सूर्यवंशी कुछ लोगों के साथ आए और निर्गम गेट से अंदर जाने लगे. जिस पर टीआई ने उन्हें रोक दिया. रोकते ही टीआई पर अपर कलेक्टर बरस पड़े. वहीं ड्यूटी पर तैनात आरक्षक भंवर लाल ने पूछा कि आप कौन हैं. तब सूर्यवंशी ने बताया कि वह अपर कलेक्टर हैं. इतना सुनते ही टीआई और पुलिस वालों ने हाथ जोड़ लिए. बोले, सर आपको पहचान नहीं पाया. उसके बाद सूर्यवंशी अपने साथ के लोगों को लेकर अंदर चले गए.
 
करीब 10 मिनट बाद सूर्यवंशी एडीएम अवधेश शर्मा को लेकर आ गए  उन्होंने भंवर लाल की ओर इशारा किया और अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए उसकी कॉलर पकड़ ली. जब तक एडीएम शर्मा और पुलिस वाले कुछ समझ पाते तब तक सूर्यवंशी ने भंवर लाल को थप्पड़ जड़ दिया. दूसरा चांटा मारने के लिए एसडीएम ने हाथ उठाया तो भंवर लाल ने हाथ पकड़ लिया.