अहमदाबाद: गुजरात चुनाव से पहले कांग्रेस राज्य के ओबीसी वोटबैंक में सेंध लगाने में कामयाब हो गई है. राज्य के बड़े ओबीसी समाज के युवा नेता कल्पेश ठाकोर ने कांग्रेस में शामिल होने की घोषणा कर दी है. शनिवार देर शाम कल्पेश ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात के बाद कांग्रेस में शामिल होने की घोषण की. कल्पेश ठाकोर ने कहा कि ‘ 23 अक्टूबर को राहुल गांधी हमारी रैली में शामिल होंगे और मैं कांग्रेस में शामिल होउंगा.’ इससे पहले कांग्रेस नेता अशोक गहलोत, गुजरात कांग्रेस के नेता भरत सिंह सोलंकी और अल्पेश ठाकोर दिल्ली में राहुल गांधी से मिलने उनके घर पर पहुंचे.
 
कौन हैं कल्पेश ठाकोर?
 
एससी, एसटी और ओबीसी एकता मंच के संयोजक कल्पेश ठाकोर ओबीसी समाज में अपनी पैठ युवा ओबीसी नेता के रूप में बनाने में कामयाब रहे हैं. कल्पेश खुले मंच से कई बार गुजरात में विकास के दावों की धज्जियां उड़ाते हुए नजर आए हैं. कांग्रेस पार्टी के लिहाज से कल्पेश का पार्टी में शामिल होना इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि गुजरात में जातीय समीकरण के हिसाब से देखें तो ओबीसी का वोट प्रतिशत 40 फीसदी है. यही कारण है कि बीजेपी हो या कांग्रेस दोनों की नजर ओबीसी वोटबैंक पर हमेशा रहती है.
 
हालांकि वो शराबबंदी और पाटीदारों को आरक्षण देने का विरोध करते रहे हैं जिसे देखते हुए लग रहा था कि उनका झुकाव बीजेपी की तरफ जा सकता है लेकिन उन्होंने पंजा पकड़ लिया है.