लखनऊ : सोमवार को योगी सरकार के राज्यमंत्री मनोहर लाल ने 5 हजार किसानों को फसल ऋण मोचन योजना के तहत कर्जमाफी का सर्ट‍िफिकेट बांटा. योगी सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना में जिस तरह का घालमेल सामने आया है उससे किसान हैरान हैं. किसी किसान का 9 पैसे तो किसी का 40 पैसे कर्ज माफ किया गया है, कर्जमाफी की रकम देख किसानों में नाराजगी है.
 
 
किसान ऋण माफी पत्र बांटने वाली योगी सरकार ने इटावा के एक किसान के केवल 3 रुपए ही माफ किए है, जिस पर करीब एक लाख रुपये का कर्ज है. इतना ही नहीं इनमें किसी किसान का 9 पैसे तो किसी का 84 पैसे तो किसी का 250 रुपए कर्ज माफ करने का सर्ट‍िफिकेट दिया गया, जिसे देखकर सब हैरान है.
 
जब किसानों ने मंत्री से इसकी शिकायत की तो उनका कहना था कि सर्ट‍िफिकेट में कुछ मिसप्रिंट हो गया होगा, जांच करवाई जाएगी. वहीं किसानों का कहना है कि ये गरीबी का मजाक उड़ाया गया है. बता दें, योगी सरकार ने यूपी के किसानों के कर्ज माफी के लिए 36 हजार 359 करोड़ रुपए की व्यवस्था की है.
 
पहले चरण में सोमवार को राज्यमंत्री मनोहर लाल ने 5 हजार किसानों ऋण माफी के पत्र बांटे, इनमें 45 किसानों को मंच पर बुलाकर पत्र दिए गए. इनमे से किसी को 10 तो किसी को 250 रुपए कर्ज माफी का सर्ट‍िफिकेट मिला, कर्जमाफी की रकम देख किसानों में नाराजगी देखने को मिली है.