दिल्ली. दिल्ली के जहांगीरपुरी में स्थित बाबू जगजीवन राम अस्पताल के मेडिकल सुपरिटेंडेंट पर छेड़छाड़ का मामला दर्ज किया गया है. बताया जा रहा है कि इस मामले में पुलिस जांच कर रही है. बता दें कि इससे पहले इस अस्पताल पर एचआइवी से संक्रमित एक व्यक्ति (48) ने बाबू जगजीवन राम अस्पताल के डॉक्टरों पर ऑपरेशन नहीं करने का आरोप लगाया था. शख्स ने मामले की शिकायत अस्पताल प्रशासन से भी की थी. उसका आरोप है कि एचआइवी से संक्रमित होने के कारण उसके साथ इलाज में भेदभाव किया गया.
 
पुलिस के मुताबिक केस के सभी पहलूओं की जांच के बाद गिफ्तारी या दूसरी कार्रवाई की जाएगी. जानकारी के मुताबिक पीड़िता काफी समय से इस अस्पताल में कार्यरत हैं. पीड़ित डॉक्टर का आरोप है कि काफी समय से उन्हें परेशान किया जा रहा है. उनका आरोप है कि पहले भी एमएस उन्हें अपने चेंबर में बुलाकर उनका यौन उत्पीड़न कर चुका है. पीड़िता के मुताबिक एमएस उन्हें अपने चेंबर में बुलाते और उनके साथ अश्लील बातें करते थे. कई बार तो उन्होंने छेड़छाड़ की भी कोशिश की और विरोध करने पर करियर बर्बाद करने की धमकी दी.
 
इस बार पीड़ित डॉक्टर ने एमएस की हरकत को अपने मोबाइल कैमरे में कैद कर लिया और पुलिस को सारे सबूत दे दिए. पुलिस के मुताबिक आरोपी एमएस डॉ. सुरेंद्र पाल का 2016 में इस अस्पताल में ट्रांसफर हुआ था. फिलहाल पुलिस ये जानने की कोशिश कर रही है कि क्या आरोपी एमएस पहले भी इस तरह महिलाओं का शोषण करता रहा है या ये पहला मामला था.
 

पढ़ें- BHU में छात्रा से फिर छेड़छाड़-मारपीट, मोबाइल भी छीना, आरोपी छात्र गिरफ्तार