वैशाली. वैशाली की नई डीएम रचना पाटिल ने काम संभालने के महज 18 घंटे के अंदर ही औचक निरीक्षण में जिला अस्पताल और समाहरणालय के औचक निरीक्षण में गायब मिले कर्मचारियों पर गाज गिराई है. डीएम पाटिल ने अपने औचक निरीक्षण में तीन डॉक्टरों और दो वरीय अधिकारियों के अलावा 15 कर्मचारियों को ड्यूटी से गायब पाया था. डीएम ने इनका एक दिन का वेतन काटने का आदेश दिया है.

समय से दफ्तर न आने को लेकर सीनियर डिप्टी कलक्टर शाहिदा खातुन एवं आईटी मैनेजर शालीनता रानी से स्पष्टीकरण पूछा गया है. दोनों के एक दिन का वेतन रोकने का आदेश दिया गया है. वहीं समाहरणालय के विभिन्न दफ्तरों में तैनात 15 कर्मियों के एक दिन के वेतन कटौती के साथ स्पष्टीकरण पूछा गया है. सदर अस्पताल में औचक निरीक्षण के दौरान गायब पाए गए तीन डॉक्टरों का एक दिन का वेतन रोकने का आदेश देते हुए डीएम ने स्पष्टीकरण मांगा है.