भोपाल. देश की सत्ता पर काबिज बीजेपी अपनी सदस्य संख्या बढ़ाकर इतिहास रचने की मुहिम में जुटी है, लेकिन मध्य प्रदेश में कई बड़ी गड़बड़ियां सामने आ रही हैं. यहां मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) की प्रदेश इकाई के सचिव बादल सरोज को भी बीजेपी का सदस्य बना दिया गया है. खास बात यह कि उन्हें एक बार नहीं, बल्कि दो-दो बार सदस्य बनाया गया है. 

बीजेपी ने सदस्यता ग्रहण करने के लिए आम लोगों के लिए एक टोल फ्री नंबर जारी किया था. इस नंबर पर मिस्ड कॉल करते ही आप बीजेपी के सदस्य बन जाते हैं. लेकिन, ऐसी बातें सामने आ रही हैं कि जिन्होंने मिस्ड कॉल नहीं किया है, उन्हें भी भाजपा का सदस्य बना दिया गया है.

माकपा के बादल सरोज ने बीजेपी के सदस्यता अभियान पर सवाल उठाए हैं. उनका आरोप है कि बीजेपी फर्जी सदस्य बनाए जा रही है. उन्होंने बताया कि उनके दो मोबाइल नंबर हैं, दोनों ही मोबाइल पर उनके पास संदेश आया है कि ‘आपने भाजपा की सदस्यता ली है, इसके लिए आपको धन्यवाद.’ 

उनका कहना है, ‘इसी तरह हजारों लोगों को बीजेपी सदस्य बनाया गया है. देश और राज्य की सत्तारूढ़ पार्टी ने फर्जी सदस्य बनाते वक्त यह भी ध्यान नहीं रखा कि कौन सा नंबर किसका है. इसके पीछे बीजेपी का आखिर मकसद क्या है?’