नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस ने सोमवार को राष्ट्रीय राजधानी में झारखंड के 30 वर्षीय मोस्ट वांटेड नक्सली को गिरफ्तार कर एक बड़ी सफलता हासिल की है. उस पर एक पुलिस गश्ती दल पर हमले का आरोप है. पुलिस उपायुक्त संजीव यादव ने बताया कि पांच लाख रुपए के इनामी चनेश्वर यादव को पश्चिमी दिल्ली के कापसहेड़ा इलाके से खुफिया जानकारी के आधार पर गिरफ्तार किया गया.

प्रतिबंधित भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी-माओवादी (भाकपा-माओवादी) का सब जोनल कमांडर बिहार के गया का रहने वाला है. 23 दिसंबर, 2014 को एक पुलिस गश्ती दल के खिलाफ आईईडी विस्फोट कर हमला करने तथा गोलीबारी की घटना को अंजाम देने के बाद से ही वह फरार था. रांची से 150 किलोमीटर दूर चतरा जिले के इटखोरी में इस हमले में एक पुलिसकर्मी की मौत हो गई थी.

पुलिस ने कहा कि यादव ने कापसहेड़ा कॉलोनी में छिपा हुआ था, जहां अधिकांशत: बिहार तथा झारखंड के लोग रहते हैं. नक्सली यादव ने पुलिस से कहा कि वह साल 2013 में नक्सली समूह में शामिल हुआ था. वह अपने चाचा से उत्पीड़न का बदला लेने के लिए नक्सली बना था.