सतना: परिजन अपने बच्चे को स्कूल में भविष्य सवारने के लिए भेजते हैं, लेकिन उसी स्कूल में बच्चे के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है. मध्य प्रदेश के सतना के एक सरकरी स्कूल में बच्चों से मजदूरी करवाई जा रही है. दरअसल स्कूल के बल्डिंग में काम लगने के कारण बच्चों से ईट-पत्थर उठवाया जा रहा है. 
 
सतना से ही एक और तस्वीर सामने आई है, जिसमें स्कूल के प्रिंसिपल अपने कैबिन में बैठकर बच्चों से झाड़ू लगवा रही हैं.शायद प्रिंसिपल को सफाई में रहने की आदत तो है पर सफाई बच्चों से करवाती है. यही नहीं इस स्कूल में बच्चे अपने जान को हथेली पर रख कर पढ़ने को मजबूर हैं.
 
 
दरअसल, स्कूल में बनने वाले मिड-डे मील का गैस सिलेंडर बच्चों के क्लास रूम में रखा पाया गया. इससे मासूम बच्चे कभी भी बड़े हादसे का शिकार हो सकते हैं. वहीं प्रिंसिपल ने स्कूल के शौचालय में ताला जड़ रखा है जिससे कोई और इस्तेमाल ना कर सके.
 
इस मामले को लेकर जिला शिक्षा अधिकारी ने कहा कि स्कूल के शौचालय में ताला नहीं लगे हुए हैं. स्कूल में सफाई बाहर से कर्मचारी बुलवाकर कराया जाता है. अगर ऐसा हुआ है तो इसकी जांच की जाएगी.