देहरादून: उत्तराखंड में भारी बारिश से जन-जीवन अस्त-व्यस्त है. बारिश के बाद भूस्खलन ने लोगों की परेशानी और भी बढ़ा दी है. भूस्खलन के कारण कई गांवों का कनेक्शन लिंक रोड से कट गया है. 
 
उत्तराखंड के कई जिलों में बारिश और भूस्खलन ने लोगों के माथे पर चिंता की लकीर ला दी है. रूद्रप्रयाग में लगातार बारिश हो रही है जिसे ग्रमिणों खासे प्रभावित हुए हैं. ग्रामीण क्षेत्रों को जोड़ने वाले कई लिंक मार्ग पर मलबा और पत्थर आने से वो बंद पड़े हैं. जबकि कुछ रोड ऐसे हैं जहां पूरी तरह से पानी भरा हुआ है. रास्ते पूरी तरह से बंद हैं.
 
रूद्रप्रयाग के जिलाधिकारी का कहना है कि इन मार्गों को जल्द खोला जाएगा. जिलाधिकारी ने कहा कि, प्रशासन की तरफ से सड़कों पर से मलबा हटाने का काम चल रहा है. हमारा प्रयास है कि लिंक रोड जल्द से जल्द खुल जाए. 
 
 
बारिश से उत्तरकाशी का हाल भी कुछ ऐसा ही है. उत्तरकाशी मे भी भारी बारिश के कारण भूस्खलन का खतरा बढ़ गया है. गंगोत्री हाईवे पर बारिश के कारण भूस्खलन का खतरा सबसे ज्यादा है. भूस्खलन के कारण बद्रीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग ठप पड़ा है, जिसके चलते 967 यात्री बद्रीनाथ में फंसे हैं.
 
बता दे कि उत्तराखंड में मौसम विभाग ने पहले ही भारी बारिश की अलर्ट जारी कर रखा है. मौसम विभाग के मुताबिक अगले कुछ दिनों में भारी बारिश होने की आशंका लोगों को पहाड़ों पर यात्रा करने को लेकर भी चेतावनी जारी की गई है.