नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी से उनके आवास पर मुलाकात की. दिल्ली सरकार ने इस मुलाकात को शिष्टाचार बैठक करार दिया. करीब 20 मिनट चली इस मुलाकात के दौरान क्या चर्चा हुई, इसका खुलासा तो दोनों ने नहीं किया. गौरतलब है कि
केजरीवाल ने जून में बीजेपी नेता से मिलने का समय मांगा था, लेकिन आडवाणी ने व्यस्तता का हवाला देते हुए समय नहीं दिया था.

सूत्रों ने कहा कि केजरीवाल ने आडवाणी को केंद्र की बीजेपी नीत सरकार के असहयोग के कारण उनकी सरकार के सामने आ रही दिक्कतों के बारे में बताया.  दोनों नेताओं के बीच दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाने, दिल्ली पुलिस को दिल्ली सरकार के अधीन लाने और दिल्ली सरकार में अधिकारियों की नियुक्ति राज्य सरकार से पूछ कर किए जाने जैसे कई मसलों पर चर्चा हुई. 

इस मुलाकात को राजनीतिक रूप से काफी अहम माना जा रहा है, खासतौर से तब जबकि सीएम केजरीवाल ने कई मुद्दों पर मोदी सरकार के खिलाफ सीधी जंग छेड़ रखी हो.