लखनऊ. यूपी में एक नेशनल लेवल के खिलाड़ी को जीआरपी के दो जवानों ने चलती ट्रेन से फेंक दिया, जिससे उसकी मौत हो गई है. आपको बता दें कि सिपाही खिलाड़ी से 200 रुपए की घूस मांग रहे थे और इनकार किये जाने पर उन्होंने इस हरक़त को अंजाम दिया. यह घटना कासगंज की है. होशियार सिंह तलवारबाज़ था. पुलिस ने दो सिपाहियों रामविलास और राजेश समेत तीन लोगों के खिलाफ गैर-इरादतन हत्या का केस दर्ज कर लिया है. 

होशियार सिंह अपने परिवार के साथ एक पैसेंजर ट्रेन में सफर कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने अपनी पत्नी और मां को महिला कोच में बिठाया और खुद जनरल कोच में बैठ गए, लेकिन कुछ देर बाद पत्नी की तबीयत बिगड़ने की वजह से उन्हें भी महिला कोच में जाना पड़ा, जहां मौजूद GRP (गवर्नमेंट रेलवे पुलिस) के सिपाहियों ने होशियार सिंह को वहां से जाने के लिए कहा। होशियार सिंह ने अपनी पत्नी की तबीयत ख़राब होने की बात बताई, लेकिन फिर भी GRP के जवानों उसे बैठने नहीं दिया.

आरोप है कि सिपाहियों ने होशियार सिंह से महिला कोच में बैठने के लिए 200 रुपये मांगे। जब उसने पैसे देने से इनकार किया तो दोनों सिपाहियों ने उसके साथ हाथापाई की और उसे चलती ट्रेन से धक्का दे दिया. भले ही पुलिस ने गैर-इरादतन हत्या का केस दर्ज कर लिया हो, लेकिन परिवार का कहना है कि सिपाहियों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज होना चाहिए.