नई दिल्ली. यूपी में अखिलेश सरकार जनता को बड़ा झटका देने वाली है. पेट्रोलियम कंपनियां अब पेट्रोल सस्ता करें या मंहगा इसके असर से यूपी की जनता बेअसर रहेगी और उससे सरकार फिक्स मौटा वैट वसूलेगी. सरकार के इस कदम से राज्य में पेट्रोल और डीजल महंगा हो जाएगा.
 
दरअसल यूपी सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर वैट की जगह फिक्स टैक निर्धारित कर दिया है. यह फैसला कल खुद मुख्यमंत्री की उपस्थिति वाली कैबिनेट में लिया गया. इस फिक्स टैक्स के बाद अब यूपी में पेट्रोल की कीमत में 2.40 रुपये का इजाफा होगा और वहीं डीजल की कीमत में ये इजाफा 1.37 रुपये हो जाएगा. आपको बता दें कि छुट्टी पर जाने  से पहले सीएम अखिलेश ने अपने कैबिनेट के साथ बैठक की. कैबिनेट के फैसले के अनुसार प्रदेश में अब पेट्रोल पर 16.74 रुपए प्रति लीटर और डीजल पर 9.41 रुपए की दर से फिक्स वैट लिया जाएगा. ये दरें न घटेंगी और न बढ़ेंगी.”
 
इसका सीधा मतलब ये है कि प्रति लीटर पर ग्राहक को इतना भुगतान करना ही होगा. अभी तक प्रदेश सरकार की व्यवस्था के तहत पेट्रोल पर 26.80 फीसदी और डीजल पर 17.48 फीसदी वैट लगता था. ऐसी स्थिति में जब तेल कंपनियां पेट्रोल और डीजल के रेट घटाती थीं तो उसी अनुपात में वैट की दरें भी घट जाती थीं. इससे ग्राहकों को भी लाभ हो जाता था. बताया जा रहा है कि यूपी सरकार के राजस्व को लगभग 110करोड़ का घाटा हो रहा था ऐसे में सरकार ने ये विकल्प तलाशा है. विभागीय शासनादेश जारी होने की तारीख से यह व्यवस्था प्रभावी हो जाएगी.