नई दिल्ली. सीएम अरविंद केजरीवाल और दिल्ली के पुलिस कमिश्नर बीएस बस्सी के बीच मुलाकात के बाद टकराव बढ़ गया है. केजरीवाल ने आनंद पर्वत इलाके में 19 वर्षीय लड़की की नृशंस हत्या के बाद कमिश्नर बस्सी को तलब किया था. मुलाकात के दौरान दिल्ली पुलिस को अक्सर निशाना बनाने वाले केजरीवाल ने बस्सी पर दिल्ली पुलिस की ट्रांसफर-पोस्टिंग को लेकर कानून व्यवस्था तक कई सवाल दागे, लेकिन बस्सी ने एक का भी जवाब नहीं दिया.

वहीं दिल्ली सरकार में मंत्री सत्येंद्र जैन ने मुलाकात का ब्यौरा देते हुए कहा, ‘बीएस बस्सी ने मीनाक्षी जैसे 500 पीड़‍ितों की लिस्ट केजरीवाल को सौंपकर सरकार से उन्हें मुआवजा देने के लिए कहा, लेकिन केजरीवाल ने उन्हें कहा कि अपने बॉस से बात करो और उनके मुआवजा मांगो.’ बॉस से मलतब प्रधानमंत्री मोदी से था.

जैन ने कहा कि बस्सी साहब का इस पर कहना था कि पीएम के पास इन चीजों के लिए समय नहीं है. उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस मीनाक्षी मर्डर को हल्के में ले रही है और इसे आपसी झगड़ा बताने की कोशिश की।. उन्होंने कहा कि बस्सी से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने माना कि था कि पीड़ित परिवार की तरफ से 25-30 शिकायतें आई थीं. 

वहीं कमिश्नर बस्सी ने भी केजरीवाल के साथ हुई मुलाकात के बारे में जानकारी दी. उन्होंने बताया, ‘मुख्यमंत्री के साथ आत्मीय ढंग से अच्छे माहौल में एक घंटे तक बात हुई. बातचीत प्रोफेशनल तरीके से हुई. मैंने उन्हें कानून व्यवस्था के बारे में बताया.’  मीनाक्षी हत्याकांड पर उन्होंने कहा कि पीड़‍िता के साथ पूरा न्याय होगा.