नई दिल्ली. इन दिनों मुंबई और दिल्ली में सरेआम लोग किसी के गुस्से का शिकार हो रहे है. गुस्सा भी ऐसा की लोगों की सरेआम चाकूओं से गोद कर हत्या कर दी जा रही है, लेकिन बचाने के लिए कोई सामने नहीं आ रहा.

दो दिन पहले जहां राजधानी दिल्ली के आनंद पर्वत में दो भाईयों ने मीनाक्षी नाम की लड़की की बेरहमी से हत्या की दी वहीं सोमवार के दिन मुंबई के वडाला में 10 साल की बच्ची ने जब छेड़छाड़ का विरोध किया तो आरोपियों ने उसके साथ मार-पीट की. अब सवाल है कि क्या इन मामलों में महानगर के लोग असंवेदनशील हो चुके हैं, जो बचाव के लिए आगे तक नहीं आते.

इसी पर देखिए अभियान..