लखनऊ : यूपी में पिछले दो महीनों में हिंसा और सांप्रदायिक तनाव की कई खबरें सामने आ चुकी हैं. सहारनपुर के बाद अलीगढ़ और हापुड़ में एक धर्मस्थल में निर्माण को लेकर सांप्रदायिक तनाव फैलने की खबरें आ रही हैं. तनाव के बाद शहर में भारी पुलिस फोर्स की तैनात कर दी गई है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार विवाद इतना बढ़ गया था कि दो समुदाय के लोग आमने-सामने आ गए और जमकर मारपीट, तोड़फोड़, पथराव और फायरिंग से पूरे इलाके में दहशत फैल गई.
 
मामला अलीगढ़ के ऊपरकोट कोतवाली क्षेत्र के फूल चौराहा स्थित सर्राफा बाजार का है. इस इलाके को शहर का अतिसंवेदनशील प्वाइंट माना जाता है. यहां एक काफी पुरानी मस्‍ज‍िद है, जिसकी तीसरी मंजिल पर काफी समय से निर्माण कार्य चल रहा है. लेकिन एक समुदाय ने इस निर्माण का विरोध किया. जिसके कारण मामला गर्मा गया. देखते देखते मामले ने सांप्रदायिक रुप ले लिया. 
 
बवाल शांत करने पहुंची पुलिस पर एक पक्ष ने पथराव और फायरिंग कर दी. पुलिस ने उपद्रवियों को खदेड़कर स्थिति पर काबू पाया. बीजेपी विधायक संजीव राजा ने एसएसपी राजेश कुमार पांडेय से साफ कह दिया कि शनिवार सुबह 6 बजे तक गुंबद नहीं हटी तो हम हटाएंगे. एसएसपी ने रात में ही गुंबद हटाने का वादा कर कार्रवाई शुरू कराई.
 
इस मामले में डीएम ऋषिकेश भास्कर यशोद का कहना है कि मस्जिद में निर्माण का काम हो रहा था, जिसे लेकर कुछ लोगों को आपत्त‍ि थी. कुछ जगह पर पथराव हुआ है. अफवाह के चलते मामला बढ़ गया. फिलहाल पर्याप्त फोर्स लगा दी गई है. स्थिति कंट्रेाल में है. फायरिंग की सूचना नहीं है.
 
वहीं हापुड़ के सिंभावली क्षेत्र के गांव देवली में धार्मिकस्थल के पुनरुद्धार को लेकर दो समुदायों के बीच जमकर पथराव और दुकान में तोडफ़ोड़ की गई. पथराव में तीन महिला सहित 11 लोग घायल हो गए. तनाव के मद्देनजर गांव में पुलिस तैनात कर दी गई है. गांव में एक समाज विशेष का धार्मिकस्थल है.