लखनऊ: हमीरपुर के मौदहा से रिवॉल्वर की नोक पर दूल्हे का अपहरण करके चर्चा का केंद्र बनी रिवॉल्वर धारी प्रेमिका को आज देर रात पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. बांदा से गिरफ्तार आरोपी प्रेमिका ने पुलिस की पूंछताछ के दौरान अपहरण की वारदात क़ुबूल कर ली फिर काफी मशक्कत के बाद पुलिस दूल्हे अशोक यादव को भी ढूड़ने मे कामयाब रही.
 
आरोपी वर्षा ने कहा-बंदूक लेकर नहीं गई थी मंडप
हालांकि आरोपी दबंग प्रेमिका ने इस नाटकीय वारदात में दूल्हे की रजामंदी की बात कही है और वारदात में असलहों(हथियारों) के इस्तेमाल की बात से इंकार किया गया है. वर्षा को गिरफ्तार कर पुलिस बांदा नगर कोतवाली ले गयी और वहां उससे पूंछतांछ हुई जिसमे उसने ये तो क़ुबूल किया कि उसने ही दूल्हे अशोक को शादी के मंडप से उठाया था.
 
वर्षा-आनंद का अफेयर था 8 साल-
आरोपी वर्षा के पिता गोपालदास होशंगाबाद में नौकरी करते हैं और बांदा में आरोपी वर्षा अपनी बहन और मां के साथ रहती है और बीए फाइनल ईयर की छात्रा है.आरोपी वर्षा का कहना था कि अशोक से उसका 8 साल अफेयर था और उसने उससे कहीं और शादी करने को मना किया था. आरोपी का दावा है कि अशोक की शादी उसकी मर्जी के खिलाफ हो रही थी. अशोक कहां है इस सवाल पर वर्षा का कहना था कि मंडप से लाकर उसने अशोक को बांदा में छोड़ दिया था उसके बाद अशोक कहां गया उसे नहीं पता है. 
 
वहीं इस पूरे मामले में सीओ सिटी बांदा का कहना है कि हमीरपुर जिले के मौदहा में भवानी गांव से मंडप से अपने साथियों की मदद से दूल्हे को किडनैप करने की आरोपी लड़की और दूल्हे को गिरफ्तार कर लिया गया है.
 
आपको बता दें कि जनपद हमीरपुर के थाना मौदहा के भवानी गांव से 15-16 मई की रात अपनी बारात लेकर गए. बांदा के मटौंध के मूल निवासी और बांदा में एक निजी क्लीनिक में कम्पाउंडर अशोक यादव का उस समय असलहाधारी प्रेमिका ने उस समय रिवाल्वर की नोक पर अपहरण कर लिया था जब वह सात फेरो के लिए मंडप में बैठा था. अचानक चार पहिया में जींस शर्ट पहने अपने असलहाधारी साथियों के साथ आयी प्रेमिका ने रिवाल्वर की नोक पर दूल्हे अशोक को अगवा कर  लिया था और वहां से गाड़ी में डालकर ले गयी थी. अपहरणकर्ता प्रेमिका को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. काफी जांच के बाद पुलिस दूल्हा अशोक यादव को भी ढूड़ने मे सफल हो गई है और हिरासत मे लेकर बांदा से हमीरपुर के मौदहा के लिए रवाना हो गई है.