नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि यदि पार्टी से निष्कासित नेता योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण वापस पार्टी में आते हैं तो उन्हें खुशी होगी. आम आदमी पार्टी (आप) के नेता ने एक निजी चैनल से बातचीत में कहा, ‘अगर ऐसा हुआ तो बहुत अच्छा होगा, उनकी वापसी पार्टी के लिए अच्छा होगा.’ केजरीवाल ने इस तरह के आरोपों से इंकार किया कि उनका तानाशाही रवैया दोनों की वापसी में अड़चन बना हुआ है.

आप के संस्थापक सदस्यों और केजरीवाल समर्थकों के बीच दो महीने तक चली जुबानी जंग के बाद योगेंद्र और भूषण दोनों को कथित तौर पर पार्टी विरोधी गतिविधियों के लिए अप्रैल में पार्टी से बाहर कर दिया गया था. इसके बाद से ही यादव और भूषण पार्टी में आवाज उठाने वालों को दबाने के लिए केजरीवाल पर सार्वजनिक रूप से निशाना साधते रहे हैं. दोनों नेताओं ने बाद में ‘स्वराज अभियान’ की भी शुरुआत की.