रोहतक : रोहतक में दिल्ली जैसा एक और निर्भया केस सामने आया है. दो दिन पहले एक 23 साल की युवती की गैंगरेप के बाद हत्या कर दी गई थी. लेकिन अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट से खुलासा हुआ है कि महिला का चेहरा, जीभ, आंख और कान को पूरी तरह से विकृत कर दिया गया था.
 
रिपोर्ट में महिला की मौत सिर में गहरी चोट लगने से हुई है. इतना ही नहीं, पोस्टमार्टम के दौरान पाया गया कि उसके शव में आहार नाल मौजूद नहीं है. कंधे से नीचे के हिस्सों पर दांत से काटे जाने के निशान मिले हैं. ये सब शायद महिला के शव की पहचान छुपाने के लिए किया गया है. 
 
सोनीपत के पुलिस अधीक्षक अजय मलिक ने कहा कि इस मामले में सुमित एवं विकास नाम के दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस पूछताछ में सामने आया है कि महिला तलाकशुदा थी और आरोपी सुमित महिला का जानकार था.
 
पुलिस के अनुसार आरोपी सुमित ने 9 मई को चलती कार में तलाकशुदा युवती से दुष्कर्म किया और फिर रोहतक में आइ.एम.टी. के पीछे पा‌र्श्वनाथ कॉलोनी में ले आए. यहां, सुमित ने युवती पर किसी अन्य से संबंधों का आरोप लगाया. वहीं मृतका के परिजनों ने सोनीपत पुलिस थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करायी थी.
 
हरियाणा में इस तरह की यह दूसरी घटना है. इससे पहले भी इसी तरह से नेपाली युवती के साथ 9 लोगों ने अपरहण कर गैंग रेप किया और उसके बाद उसकी निर्मम हत्या कर दी थी. उसके गुप्तांग में भी पत्थर, ब्लेड, कंडोम मिले थे. इस युवती की भी इसी तरह से अपरहण कर गैंग रेप के बाद हत्या की गई.