मुंबई. विदेशी फंड के मामले में सामाजिक कार्यकर्ता तीस्ता सीतलवाड़ के मुंबई स्थित घर और ऑफिस पर सीबीआई ने छापा मारा है. आपको बता दें कि सीबीआई ने सीतलवाड़ के खिलाफ विदेशी मुद्रा विनियमन अधिनियम यानी एफसीआरए के उल्लंघन को लेकर मुंबई में एक एफआईआर दर्ज की है. एफआईआर में तीस्ता के अलावा उनके पति जावेद आनंद, उनके एनजीओ के एक निदेशक समेत कुछ अज्ञात लोगों को भी अभियुक्त बनाया गया है.

केंद्र सरकार ने 27 जून को तीस्ता सीतलवाड़ की कंपनी के खिलाफ सीबीआई जांच का आदेश दिया था. तीस्ता पर गुजरात दंगा पीड़ितों के लिए जारी किए फंड के दुरुपयोग का आरोप है. गृह मंत्रालय ने एजेंसी को तीस्ता सीतलवाड़ की कंपनी के सभी खाते भी फ्रीज करने को कहा था. 

सीबीआई के प्रवक्ता आरके गौड़ ने कहा है कि तीस्ता और उनके पति के एनजीओ सबरंग ट्रस्ट और सिटीजंस फॉर जस्टिस एंड पीस ने बिना गृह मंत्रालय की अनुमति लिए एक विदेशी संस्था से 2.9 लाख डॉलर बतौर दान स्वीकार किए, जिससे विदेशी मुद्रा विनियमन अधिनियम के उल्लंघन का मामला बनता है.