भुवनेश्वर. ओडिशा के जनजाति बहुल क्योंझर जिले में ग्रामीणों ने जादू-टोना करने के शक में एक ही परिवार के कम से कम छह सदस्यों को मौत के घाट उतार दिया. पुलिस के अनुसार मृतकों में एक महिला और चार बच्चे शामिल हैं.

परिवार के छह सदस्यों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि दो अन्य को गंभीर चोट पहुंची है और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इसी तरह की एक घटना में रायगड़ा जिले में ग्रामीणों ने जादू-टोना कर नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाते हुए जगबंधु नामक एक व्यक्ति को रविवार को पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया.

अनुमंडल पुलिस अधिकारी (एसडीपीओ) बादबिल अजल प्रताप स्वैन ने कहा, ‘प्रथम दृष्टया यह पाया गया है कि जादू-टोना करने के आरोप में एक ही परिवार के छह सदस्यों को धारदार हथियार से काटकर मौत के घाट उतारा गया है. हमने शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है. आरोपियों को पकड़ने के प्रयास जारी हैं.’उन्होंने कहा कि मामले की जांच शुरू कर दी गई है. वहीं, राज्य के पुलिस महानिदेशक संजीव मारिक ने अपराध शाखा को घटना की जांच की निगरानी का आदेश दिया है. इसी बीच, पुलिस की कार्रवाई के भय से गांव के सभी पुरुष फरार हो गए हैं.

IANS