नागपुर : देश में लगातार लड़कियों के साथ रेप और गैंगरेप जैसी वारदात तेजी से बढ़ने लगी है, हाल ही में एक नाबालिग लड़की के साथ गैंगरेप का चौंका देने वाला मामला सामने आया है.
 
इस मामले में चौंका देने वाली बात ये है की पीड़िता के साथ गैंगरेप की ये वारदात हॉस्टल में हुई, गौर करने वाली बात ये है की ये हॉस्टल एक विधायक का बताया जा रहा है.  बता दें की पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्रवाई करते हुए इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है. ये घटना 14 अप्रैल की है.
 
आरोपियों की पहचान 44 वर्षीय मनोज भगत और 19 वर्षीय रजत माद्रे के रूप में हुई है. दोनों ही आरोपी गीत्तीखदन इलाके के रहने वाले हैं. पुलिस के मुताबिक, मनोज पीड़िता का परिचित है, पीड़िता मनोज की दुकान पर ही काम किया करती थी. इन दोनों आरोपियों ने चार दिनों तक लड़की को बंधक बनाकर रखा और गैंगरेप करते रहे.
 
पुलिस का कहना है की मनोज पीड़िता को उसके परिजनों की रजामंदी लेने के बाद ही शादी में अपने साथ ले गया था, वह पीड़िता को हॉस्टल लेकर आया और पार्किंग में उसके साथ बलात्कार किया, आरोपी ने अपने दूसरे साथी रजत को भी वहां बुला लिया.
 
रजत के आने के बाद दोनों ने हॉस्टल के कमरे में पीड़िता के साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया. खुद को संभालते हुए पीड़िता घर पहुंची और उसने परिजनों को अपने साथ हुई आपबीती सुनाई, जिसके बाद उन्होंने पुलिस स्टेशन जाकर आरोपियों के खिलाफ अपहरण और गैंगरेप के तहत मामला दर्ज करवाया. 
 
पुलिस ने बताया की आरोपियों ने हॉस्टल में कमरा बुक करने के लिए खुद को बाहर से आया हुआ बताया था, हिरासत में लेने के बाद पुलिस आरोपियों से पूछताच कर रही है.