अहमदाबाद:  अयोध्या में राम मंदिर और बाबरी मस्जिद का मुद्दा दशकों से विचाराधीन है. इस मामले में सुप्रीम कोर्ट भी दोनों पक्षों को कोर्ट के बाहर आपसी सहमति से सुलझाने का सुझाव दे चुका है. मगर इस बीच वीएचपी नेता प्रवीण तोगड़िया ने राम मंदिर को लेकर बड़ा बयान दिया है. बाबरी मस्जिद को लेकर सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद आज वीएचपी प्रमुख प्रवीण तोगड़िया ने प्रेस कांफ्रेंस कर सरकार से आग्रह किया है कि केंद्र सरकार तुरंत संसद में कानून पास कर राम मंदिर बनाने का कानून पारित करे.
 
ये भी पढ़ें:
 
बीजेपी के नेताओं पर षड़यंत्र का मुकदमा चालाने के सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद प्रवीण तोगड़िया ने आरोप लगाया कि मंदिरो को तोड़ने वाले मुगल हमलावरों और उनके वंशजो पर षडयंत्र का मुकदमा चलाया जाए. इतना ही नहीं, उन्होंने कहा कि कश्मीर से कश्मीरी पंडितो को पलायन करने पर मजबूर करने वाले वहां के तमाम जिम्मेदार मंत्रियो पर मुक़दमा चलाया जाए.
 
आपको बता दें कि ये बयान तब आया है, जब सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को एक अहम फैसले में बीजेपी नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती समेत 13 लोगों पर बाबरी मस्जिद विध्वंश मामले में आपराधिक साजिश का केस चलाने को मंजूरी दे दी है.
 
ये भी पढ़ें: 
 
गौरतलब है कि बाबरी विध्वंस और राम मंदिर का मुद्दा अभी सुप्रीम कोर्ट में लंबित है. हालांकि, चीफ जस्टिस जगदीश सिंह खेहर ने पिछले दिनों कहा था कि दोनों पक्षों को मिल-बैठकर इस मुद्दे को कोर्ट के बाहर हल करना चाहिए.