जयपुर. अलवर में कुछ कथित गोरक्षकों का एक शख्स को पीटकर मारने के मामले में राजस्थान के गृहमंत्री गुलाब चंद्र काटरिया ने चौंकाने वाला बयान दिया है उनका कहना है कि इस मामले में दोनों पक्ष की गलती है.
 
उनके मुताबिक ‘राज्य में गायों की तस्करी पर रोक लगी हुई है फिर भी लोग मानने के लिए तैयार नही है. दूसरी ओर गाय की रक्षा करने वाले कुछ लोग हैं जो इनको रोकने की कोशिश करते हैं. लेकिन कानून को हाथ में लेना ठीक नहीं है. पुलिस दोनों पक्षों पर कार्रवाई करेगी.’
 
उनके इस बयान के बाद से विपक्ष दलों का कहना है कि ऐसा लग रहा कि मंत्री जी दोषियों का पक्ष लेने की कोशिश कर रहे हैं.
 
आपको बता दें कि राजस्थान के अलवर में गायों की तस्करी के शक में कुछ लोगों ने 5 लोगों की बेरहमी से पिटाई कर दी थी. जिसमें से एक युवक की मंगलवार को मौत हो गई. यह मामला एक अप्रैल का है.
 
मिली जानकारी के मुताबिक हरियाणा के रहने वाले ये लोग छह गाड़ियों में गायों को लेकर जा रहे थे. उसी दौरान बहरोड के पास खुद को गौरक्षक बताने वाले कुछ लोगों ने इन पर हमला कर दिया. इन सभी लोगों के साथ काफी मारपीट की गई. मारपीट में पहलू खान नाम के एक शख्स को गंभीर चोट आई थीं.
 
पुलिस ने पहलू खान को घायल अवस्था में अलवर के एक अस्पताल में भर्ती कराया था. लेकिन घटना के दो दिन बाद पीड़ित ने सोमवार की देर रात दम तोड़ दिया.
 
पुलिस के अनुसार पहलू खान और उनके चार अन्‍य सहयोगियों ने गाय को खरीदने संबंधी दस्तावेज भी पेश किए थे लेकिन इसके बावजूद उनकी पिटाई की गई थी.
 
पुलिस ने हत्या के मामले में अब तक 10 लोगों को गिरफ्तार किया है लेकिन ये सभी गोरक्षकों के पक्ष में ही बयान दे रहे हैं.