राजस्थान : महिलाओं के साथ बलात्कार की घटनाएं इन दिनो तेजी से सामने आने लगी हैं, हाल ही में राजस्थान के मांगरोल में एक नाबालिग बांग्लादेशी लड़की के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है.
 
 
पुलिस को पीड़िता बेहोशी की हालत में मांगरोल बस स्टेंड के समीप मिली थी. इसके बाद जैसे ही पीड़िता ने अपनी साथ हुई दर्दभरी दास्तां सुनाई जिसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर 6 को पकड़ लिया और अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है.  
 
पीड़िता बांग्लादेशी भाषा के अलावा कोई अन्य भाषा नहीं जानती थी, पुलिस ने लड़की को जूनागढ़ की सेवाभावी संस्था शिशुमंगल को सौंप दिया जिसके बाद जब दुभाषिया की मदद से लड़की से पूछताछ की गई तो उसने अपना नाम सत्यार्थी बताया और शुरू से अपने साथ हुई आप बीती बताते हुए कहा की मौसे ने मुझे 3000 रुपए में मुझे बेच दिया जिसके बाद मुजे कोलकाता के नजदीक बोंगा लाया गया और बाद में मुंबई और फिर गिन्ताजली एक्सप्रेस से अहमदाबाद लाया गया जहां मुझे श्रीकांत को बेचा गया जहां मेरे साथ 7 लोगों ने दुष्कर्म किया.
 
श्रीकांत ने जूनागढ़ के मांगरोल में वर्षा नाम देह व्यापार करने वाली महिला को मुझे बेच दिया और उसके बाद मेरे साथ 14 लोगों ने दुष्कर्म किया फिर लड़की उसके घर से भाग निकल कर जैसे तैसे बस स्टेंड पहुंची जहां राहगीरों ने पीड़िता को देख पुलिस को इस बात की सूचना दी. पुलिस ने मांगरोल की देह व्यापार करने वाली वर्षा, अहमदाबाद से श्रीकांत और जिवंत मोढा नामक शख्स की धरपकड करते हुए 6 लोगों को भी पकड़ लिया है.