चंडीगढ़: डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में अब जजों को फैसला या आदेश टाइप कराने के लिए किसी टाइपिस्ट पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा. जी हां वो अब जज अपनी जुबां से बोलेंगे और कंप्यूटर उनके बोले गए शब्दों को टाइप कर देगा. 
 
दरअसल पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट के निर्देश पर जिले के सभी न्यायाधीशों के लैपटॉप में  एक ‘ड्रैगन’ सॉफ्टवेयर लोड कर दिया गया है. यह सॉफ्टवेयर आवाज सुनकर तुरंत टाइप कर देता है. हाइकोर्ट की ओर से सभी जजों को इस सॉफ्टवेयर का अधिक से अधिक इस्तेमाल करने के निर्देश दिए गए हैं. 
 
 
एक हिंदी अखबार में छपी खबर के मुताबिक इस वक्त राज्य में जिला अदालत में 32 जज हैं. इनमें से 5 से 5 लोगों ने इस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करना भी शुरू कर दिया है. कोर्ट के एक जज ने बताया कि इस सॉफ्टवेयर से जजों का काम आसान हो जाएगा. उन्होंने ये भी बताया कि अधिकतर जज कोई भी फैसला या आदेश बोलकर टाइपिस्ट से टाइप कराते हैं. इस सॉफ्टवेयर की मदद से वह अपने लिए गए फैसलों को जल्दी से टाइप कर सकेंगे. इससे अदालत का काम भी तेजी से होगा.
 
साक्षी-सत्यव्रत शॉपिंग के लिए निकाल लेते हैं वक्त, राहुल-सरिता भी हुए एक्टिव
 
आपको बता दें कि इसके साथ ही तारीख वाले दिन वकीलों को एसएमएस भेजने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है. गवाहों के भी फोन नंबर अदालत इकट्ठा कर रही है. गवाही के दिन गवाहों को मैसेज किया जाएगा कि आज उनकी अदालत में गवाही है.