भोपाल. व्यापमं घोटाला पर बोलते हुए जबलपुर आईएमए के अध्यक्ष डॉक्टर सुधीर तिवारी ने कहा है कि इस मामले में सच बोलने वाला ऐसे ही मारा जाएगा. तिवारी ने मौत पर शक जताते हुए बताया कि उन्हें एक शख्स ने बताया है कि दो दिन पहले ही अरुण शर्मा ने व्यापमं मामले की जांच कर रही एसआईटी को 200 दस्तावेज़ सौंपे थे. तिवारी ने कहा कि यहां हर किसी की जान को खतरा है और वह भी डरे हुए हैं. 

इसके अलावा सुधीर तिवारी ने कहा, ‘जिस तरह से सभी लोग मर रहे हैं. मेरी जान को भी खतरा है. मैं सुबह से IG से मिलने का वक्त मांग रहा हूं. मैं उनसे मिलकर इस बाबत ज्ञापन देना चाहता हूं, लेकिन वह वक्त नहीं दे रहे हैं.’ सुधीर ने दावा किया कि नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडिकल कॉलेज के डीन डॉक्टर डीके साकल्ले की मौत लेजर गन से हुई है. पुलिस इस मामले में सच्चाई छुपा रही है.