चंडीगढ़. नियंत्रक व महालेखा परीक्षक (कैग) ने अपनी रिपोर्ट में हरियाणा की पूर्व हुड्डा सरकार पर आरोप लगाया है कि उसने डीएलएफ के साथ जमीन समझौते में सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा की कंपनी स्काइलाइट हॉस्पिटैलिटी को नाजायज फायदा पहुंचाया. इस कंपनी ने 2008 में गुड़गांव के मानेसर में साढ़े तीन एकड़ जमीन डीएलएफ को करोड़ों में बेची थी. बुधवार को पेश कैग रिपोर्ट के अनुसार, हुड्डा सरकार की मंजूरी से कंपनी ने इस जमीन का उपयोग किए बिना डीएलएफ को बेच दिया.