नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी (आप) ने बुधवार को आरोप लगाते हुए कहा कि एमसीडी (दिल्ली नगर निगम) में लगभग 23,000 फर्जी कर्मचारी हैं और इनके वेतन पर सालाना 100 करोड़ रुपये खर्च होते हैं. आम आदमी पार्टी ने दिलीप पांडेय के हवाले से अपने ट्विटर अकाउंट पर श्रंखलाबद्ध तरीके से ट्वीट करते हुए यह आरोप लगाए. 

आप ने बुधवार को अपने ट्विटर पर लिखा, ‘दिल्ली सरकार ने बजट में एमसीडी को 4,000 करोड़ रुपए दिए हैं, इसके बावजूद वह (एमसीडी) अपनी जिम्मेदारियों से भाग रही है.’ उन्होंने कहा कि बीजेपी ने दिल्ली को कूड़ादान बना दिया है. 

दिलीप पांडेय के हलावे से किए गए ट्वीट में पार्टी ने लिखा कि दक्षिणी दिल्ली नगर निगम को सरकार ने 45 करोड़ रुपए डेंगू व मलेरिया नियंत्रण के लिए दिए थे, लेकिन निगम अभी तक सिर्फ 18 करोड़ रुपये ही खर्च कर पाया था. ट्वीट में यह भी कहा गया है कि दिल्ली में एमसीडी बीजेपी के नियंत्रण में है और आम आदमी का कोई भी काम घूस दिए बिना नहीं होता है. (IANS)