बैंगलुरू : कहते हैं कि पानी में आग नहीं लगती है, पानी आग बुझाने के काम आता है लेकिन बैंगलुरू में गुरुवार को जो नजारा दिखा वह किसी अचंभे से कम नहीं था. बेलंदूर झील में अचानक लगी से आग से पूरा आसमान धुआं-धुआं हो गया था.
 
 
आग लगन के बाद इतना धुआं फैल गया कि फायर ब्रिगेड की गाड़ियों को मौके पर भेजा गया. काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया. हालांकि अभी तक आग लगने के कारणों पर पता नहीं चल पाया है.
 
 
वहीं बताया जा रहा है कि झील में आग प्रदुषण के कारण लगी है, क्योंकि झील में पूरे शहर का गंदा पानी सीधे तौर पर झील में गिरता है. प्रदुषण को लेकर सरकार भी कोई कारगर कदम नहीं उठा रही है. इससे झील में प्रदुषण का स्तर सामान्य से कई गुना ज्यादा हो गया है.
 
बता दें कि बेलंदूर झील में प्रदूषण के कारण हमेशा झाग निकलता रहता है. इस झील में पहले भी कई बार आग लग चुकी है. हालांकि इस बार आग भयानक रूप से लगी थी. अतिक्रमण के कारण झील का दायरा भी कम हो गया है.