चेन्नई: ई. के. पलनिसामी तमिलनाडु के नए मुख्यमंत्री बन गए हैं. कौन है पलनिसामी, कैसा रहा है उनका राजनीतिक जीवन. और क्यों है वो शशिकला के इतने खास. आज हम आपको इन सभी सवालों का जवाब देंगे.
 
पलनिसामी ने 1983 में AIADMK में सम्मिलित हुए थे. 1989 में पार्टी के बटवारें के वक़्त उन्होंने जयललिता का साथ दिया और उनके खेमे में शामिल होकर पहली बार विधानसभा का चुनाव लड़ा और जीता भी.
 
इसके बाद 1996 में विधानसभा चुनाव, 2004 में लोकसभा चुनाव और 2006 में फिर विधानसभा चुनाव में उनको हार का सामना करना पड़ा. 2011 में जयललिता ने उन पर फिर से भरोसा दिखाते हुए उन्हें विधानसभा का टिकट दिया.
 
पलनिसामी, शशिकला के बेहद करीबी माने जाते है. वह मूलतः गौंडर जाति आते है. पलनिसामी को मुख्यमंत्री बना कर AIADMK महासचिव शशिकला ने उस जाति को पहली बार राजनीतिक प्रतिनिधित्व दिया, जो हमेशा से ही AIADMK के साथ खड़ा रहा है.
 
 
पलनिसामी हमेशा से शशिकला के बड़े शुभचिंतक रहे है. इसलिए शशिकला के लिए उन्हें मुख्यमंत्री बनाना उनके लिए और साथ ही AIADMK के लिए अच्छा माना जा रहा है. पलनिसामी को अगले 15 दिनों में विधानसभा में अपना बहुमत साबित करना होगा.