चेन्नई : तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के तौर पर ई पलनिसामी ने आज शपथ ले ली है. राज्यपाल विद्यासागर राव उन्हें आज सरकार बनाने का न्योता दिया था. इसके बाद आज राजभवन में पलनिसामी ने सीएम पद की शपथ ली. उनके साथ तमिलनाडु मंत्रिमंडल ने भी आज शपथ ली. 
 
राज्य में मुख्यमंत्री पद को लेकर कई दिनों से चल रही अनिश्चितता आज तब खत्म हो गई जब राज्यपाल ने पलनिसामी का नाम सीएम पद के लिए घोषित किया. अब पलनिसामी को 15 दिनों के अंदर विधानसभा में बहुत साबित करना होगा. पूर्व सीएम ओ पन्नीरसेल्वम भी मुख्यमंत्री पद के लिए दावा पेश कर रहे थे.
 
झगड़े में आया नया मोड़
बता दें कि एआईएडीएमके महा​सचिव शशिकला और पन्नीसेल्वम के बीच सीएम पद को लेकर चल रहे झगड़े में नया मोड़ तब आया जब शशिकला को भ्रष्टाचार के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने चार साल की सजा सुनाई. बुधवार को शशिकला को समर्पण के बाद बैगलुरू जेल भेज दिया गया. सजा पूरी होने के बाद शशिकला छह सालों तक चुनाव नहीं लड़ सकती हैं. उनके साथ दो और लोगों को दोषी पाते हुए सजा सुनाई गई है. 
 

 
123 विधायकों के समर्थन का दावा
पन्नीरसेल्वम के सीएम पद से इस्तीफा देने के बाद उन्होंने बागी तेवर अपनाते हुए कहा था कि उनसे जबरदस्ती इस्तीफा लिया गया है. इसके बाद दोनों ही सीएम पद के लिए दावा पेश कर रहे थे. अब उन्हें पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से बर्खास्त भी कर दिया गया है.
 
शशिकला के आत्मसमर्पण करने से पहले उनके करीबी माने जाने वाली पलनिसामी को एआईएडीएमके विधायक दल का नेता घोषित कर दिया गया था. इसके बाद पलनिसामी ने राज्यपाल से मिलकर 123 विधायकों के समर्थन के साथ सरकार बनाने का दावा पेश किया था.