दार्जिलिंग. पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग जिले में भारी बारिश के चलते लैंडस्लाइड के बाद मलबे में दबने से 20 लोगों की मौत हो गई है. सोमवार रात से ही उत्तर बंगाल में भारी बारिश हो रही थी, जिसके कारण मंगलवार की रात जिले के कलिम्पोंग और मिरिक में कई स्थानों पर लैंडस्लाइड हुई. बताया जा रहा है कि दार्जिलिंग-सिक्किम को देश से जोड़ने वाले एनएच-55 पर लैंडस्लाइड के बाद भारी मलबा जमा हो गया है जिससे लंबा ट्रैफिक जाम लग गया है. 

टॉय ट्रेन की सर्विस रोकी गई
दार्जिलिंग हिमालयन रेलवे के असिस्टेंट इंजीनियर एस शेखर ने बताया, ”मैरी विला के पास लैंडस्लाइड के कारण फिलहाल ट्वॉय ट्रेन की सर्विस को रोक दिया गया है. मंगलवार को 4 ट्रेन को कैंसल किया है. ट्रैक से मलबा हटाने में अभी दो दिन का और वक्त लग सकता है. पहले एनएच-55 से मलबा हटाकर इसे शुरु किया जाएगा. इसके बाद ट्रैक चालू होगा.”

लेह में फंसे 150 यात्री
जम्मू-कश्मीर में लेह एयरपोर्ट पर करीब 150 से ज्यादा यात्रियों के फंसने की खबर है. ये सभी यात्री दिल्ली आने के इंतजार में हैं लेकिन गो एयरवेज की फ्लाइट आज लेह नहीं पहुंची, इस फ्लाइट को सुबह 5.15 बजे दिल्ली से रवाना होना था.

एजेंसी