दौसा. राजस्थान के दौसा जिले में मीणा खाप पंचायत ने तुगलकी फरमान जारी किया है. पंचायत ने आदेश दिया है कि शादी से पहले लड़कियां मोबाइल फोन ना रखें. अगर लड़कियों ने मोबाइल फोन रखा तो पंचायत उन्हें कड़ी सजा देगी. पंचायत ने पर्चे बांटकर लोगों को इस फैसले की जानकारी दी है. महिलाओं को लेकर शुरू से खाप पंचायत का रवैया गैर-जिम्मेदाराना रहा है.

तीन साल पहले भी उत्तर प्रदेश में 36 बिरादरियों की पंचायत ने यह ‘फरमान’ जारी किया था कि 40 साल से कम की लड़कियां अगर बाज़ार जाती हैं तो अपने साथ मोबाइल नहीं ले जा सकतीं.  खाप ने कहा था कि लड़कियां घर से बाहर निकलें तो सिर ढंककर निकलें. लड़कियां शाम ढले अपने घर से निकलें भी नहीं.